रैगिंग विरोधी समिति

विवरणिका 2017

आउटरीच विभाग

लेन्साइट- पुनःविमोचन

 

भारतीय फिल्‍म और टेलीविजन संस्‍थान, सूचना और प्रसारण मंत्रालय, भारत सरकार के अधीन एक स्‍वायत्‍त निकाय के रूप में कार्य करता है और सोसायटी पंजीकरण अधिनियम 1860 के अंतर्गत पंजीकृत किया गया है । भारतीय फिल्‍म और टेलीविजन संस्‍थान के अध्‍यक्ष के द्वारा चलायी जाती है जो फिल्‍म, टेलीविजन, कला और अन्‍य शैक्षिक क्षेत्रों की सुप्रसिद्ध हस्ति होती है । सोसायटी के सदस्‍यों में से चुनाव द्वारा शासी परिषद का गठन होता है । शासी परिषद एक सर्वोच्‍च निकाय है, जो भारतीय फिल्‍म और टेलीविजन संस्‍थान की नीतियों के विषय में प्रमुख निर्णय लेने हेतु तथा संस्‍थान के उद्देश्‍य और लक्ष्‍यों के परिप्रेक्ष्‍य में दिशा निर्देशों के लिए उत्‍तरदायी है । शैक्षिक तथा वि‍त्‍तीय विषयों संबंधी मामलों पर शासी परिषद को सलाह देने के लिए शासी परिषद, शैक्षिक परिषद और स्‍थायी वित्‍तीय समिति की नियुक्ति करती है । सोसायटी के अध्‍यक्ष शासी परिषद, शैक्षिक परिषद और स्‍थायी वित्‍त समिति के अध्‍यक्ष के रूप में काम करते हैं । गत काल में जिन सुप्रसिद्ध हस्तियों ने शासी परिषद के अध्‍यक्ष के रूप में कार्य किया है उनमें श्री श्‍याम बेनेगल, श्री मृणाल सेन, श्री अदूर गोपाल कृष्‍णन, श्री महेश भट्ट, श्री गिरिश कर्नाड, श्री विनोद खन्‍ना, तथा प्रो. यू.आर. अनंतमूर्ति उल्‍लेखनीय है । श्री गजेंद्र चौहान, भाफिटेसं के वर्तमान अध्यक्ष है । संस्‍थान के निदेशक कार्यकारी प्रमुख के रूप में कार्य करते हैं और उस की नीतियों एवं कार्यक्रमों को कार्यान्वित करते हैं । श्री प्रशांत पाठराबे, भाफिटेसं के वर्तमान निदेशक है ।